ज्यादा मोबाइल देखने से क्या होता है (फायदे और नुकसान)

क्या आप भी रोज 5-6 घण्टा स्मार्टफोन इस्तेमाल करते हैं और जानना चाहते हैं की, ज्यादा मोबाइल देखने से क्या होता है और यह हमारे शरीर को कैसे प्रभावित करता है तो, इस पोस्ट में अंत तक बने रहे। इस पोस्ट में आप अधिक मोबाइल चलाने के फायदे, नुकसान और उन नुकसान से बचने के तरीके जानेंगे।

मोबाइल डिवाइस ने हमारी जिंदगी को बहुत आसान बना दिया है, यह इतना महत्वपूर्ण हैं की, हम इसे थोड़े समय के लिए भी अपने से दूर नहीं रखना चाहते हैं।

एम्स और एन्वायरोनिक ने अध्यन किया और पाया की, मोबाइल की रेडिएशन मस्तिष्क के वेव पैटर्न में कैसे परिवर्तन करती है।


ज्यादा देर तक मोबाइल चलाने के नुकसान –

अगर आप बिना किसी कारण मनोरंजन के लिए मोबाइल फोन लम्बे समय तक इस्तेमाल करते हैं तो, आपकी इस गलत आदत से ये सभी नुकसान हो सकते हैं –

कमजोर आँखें –

आजकल छोटे-छोटे बच्चों की आखों पर चश्मा लगने लगा है, यह केवल खान-पान का ही असर नहीं है बल्कि, चश्मा लगने का सबसे बड़ा कारण लम्बे समय तक स्क्रीन पर आँख गड़ाए रखना है।

आजकल बच्चे हो या बड़े समय मिलते ही मोबाइल में आँख लगाने लगते हैं, इस कारण आखें तेजी से कमजोर होती हैं क्योंकि, मोबाइल से निकलने वाली रौशनी आँखों के रेटिना पर गलत प्रभाव डालती है।

ज्यादा मोबाइल देखने से क्या होता है, ज्यादा मोबाइल देखने के नुकसान, अधिक मोबाइल चलाने से होने वाली समस्या,

मोटापा –

बच्चे व बड़े व्यक्ति भी बाहर खेलने जाने के स्थान पर मोबाइल में ही PUBG जैसे गेम खेलते हैं और आलस के चलते घण्टो-घण्टों तक लेटे-लेटे या बैठे-बैठे मोबाइल देखते हुए बिता रहे हैं, कुछ लोग केवल मनोरंजन की वीडियोस में ही घण्टों का समय खराब कर रहे हैं, शारीरिक क्रिया कम करने से मोटापा बढ़ रहा है और शारीरिक परेशानी शुरू होने लगी हैं।

मोबाइल की लत –

जिन लोगों को मोबाइल में केवल कॉल करने या कॉल रिसीव करने का काम ही है, यदि उनको स्मार्टफोन के स्थान पर सिंपल मोबाइल दे दिया जाए तो, उनका पूरा दिन बीतना मुश्किल हो जाएगा क्योंकि, इस समय उनको मोबाइल की लत लग चुकी है और वो, अपना ज्यादातर समय केवल सोशल मीडिया को स्क्रॉल करने में ही बिता रहे हैं।

कुछ बच्चों को गेम्स की लत, सोशल मीडिया पर बिना बजह स्क्रॉल करने की आदत लग गयी है, जिससे उनकी पढ़ाई, समय, स्वास्थ्य आदि का नुकसान हो रहा है।

अधिक मोबाइल देखना नींद को करता है प्रभावित –

आजकल मोबाइल के कारण बड़े व्यक्ति और बच्चों, सभी की नींद प्रभावित हो रही है। सामान्यतः बच्चों को बड़े व्यक्ति से नींद ज्यादा आती है लेकिन ,ज्यादा स्क्रीन देखने के करण बच्चों में भी नींद न आने की समस्या हो रही है, जिससे उनके सर में दर्द, चिड़चिड़ापन और पूरी नींद न लेने के कारण कब्ज जैसी समस्या भी उत्पन्न हो रही हैं।

बच्चों में सामाजिकता की कमी –

केवल मोबाइल में ही व्यस्त रहना व्यक्ति के सामाजिक विकास को प्रभावित करता है।

फिजूलखर्ची बढ़ना –

इंटरनेट ने फिजूलखर्ची को काफी बढ़ाया है, पूरे दिन इंटरनेट उपयोग करते वक्त हमें तरह-तरह के शॉपिंग Ad अपनी ओर आकर्षित करते हैं और हम ऐसी वस्तुएं भी खरीद लेते हैं, जिनकी हमें बहुत ज्यादा जरुरत भी नहीं होती है।

हो सकती हैं खतरनाक बीमारी –

आपको जानकार हैरानी होगी की, ज्यादा मोबाइल के इस्तेमाल से दिमाग का कैंसर तक हो सकता है, जिसमें जान तक जा सकती है।

आत्महत्या की सम्भावना –

यह बहुत कम होता है लेकिन, असम्भव नहीं है। जो व्यक्ति हद से ज्यादा मोबाइल इस्तेमाल करता है, क्या पता वह किस कारण से इंटरनेट का उपयोग कर रहा है। कुछ बच्चों ने गेम की लत में अपने घर वालों तक को मौत के घाट उतार दिया है।

एक लड़के ने अपनी माँ को जान से मार दिया क्योंकि, उसको माँ उसको पब्जी खेलने से रोक रही थी। ऐसे में अगर आप भी ज्यादा मोबाइल इस्तेमाल करते हैं तो, यह पक्का करें की आप सही कार्य को करने के लिए और एक निश्चित समय तक ही मोबाइल इस्तेमाल करें।

सिर-दर्द, चक्कर आना –

मोबाइल से निकलने वाला रेडिएशन हमारे दिमाग पर नकारात्मक प्रभाव डालता है तो, आपको सिर में दर्द की समस्या हो सकती है। यदि बहुत देर फोन इस्तेमाल करने से आपके सिर में सामान्य दर्द हो तो यह कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन अगर दर्द असहनीय है तो यह चिंता का बिषय है। ऐसी स्थिति में आपको जल्दी से जल्दी किसी अच्छे डॉक्टर को दिखाना चाहिए।

निष्कर्ष –

अभी हमने जाना की ज्यादा मोबाइल देखने के नुकसान और फायदे क्या-क्या हैं। अगर आपको इस पोस्ट में बताई जानकारी पसंद आयी हो तो, आप इसे ऐसे दोस्तों में जरूर शेयर करें , जो मोबाइल बहुत ज्यादा इस्तेमाल करते हैं। पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद।

5/5 - (2 votes)

Leave a Comment