मन को एकाग्र कैसे करें (बेहतरीन तरीके) | Man Ko Ekagra Kare – HR

दोस्तों, चाहे आप विद्यार्थी हों या फिर कोई बिजनेसमैन, अगर आप अपने मन को एकाग्र नहीं कर पाते हैं तो, आपको सफलता नहीं मिलेगी या फिर बहुत समय बाद मिलेगी क्योंकि, मन को एकाग्र किए बिना आप किसी भी कार्य को अच्छे तरीके से, पूरा ही नहीं कर सकते हैं लेकिन, इस पोस्ट को पढ़कर आपको समझ आ जायेगा कि, मन को एकाग्र कैसे करें ?

क्या आपको पता है कि, दिमाग और मन दोनों ही अलग-अलग चीजें हैं लेकिन, यह अभी तक नहीं पता चल पाया है की मन, दिमाग के किस हिस्से में है । एकाग्रता की कमी से विद्यार्थियों को सबसे ज्यादा समस्या होती है, वे पढ़ाई में ध्यान नहीं लगा पाते हैं ।

◆ मन एकाग्र न होने पर समस्याएं :-

A) यदि आपका मन एकाग्र नहीं होगा तो, आप किसी भी कार्य को पूरा ही नहीं कर पाएंगे (मनोरंजन की बात अलग है) । जैसे ही आप अपने दिमाग पर थोड़ा-सा जोर देंगे, आपका मन हार मान जाएगा । फिर धीरे-धीरे आलस, सिर में दर्द आदि समस्याएँ उत्पन्न होने लगती हैं ।

B) अगर आप अपने मन को एकाग्र नहीं कर पाते होंगे तो, आपको बड़े-बड़े निर्णय लेने में बहुत ज्यादा समस्या आयेगी । आप अपने भविष्य के बारे में ज्यादा सोचने लगेंगे और यदि आपकी उम्र लगभग 50-60 साल है तो, आप भूतकाल(बीता हुआ समय) के बारे में ज्यादा सोचेंगे ।

C) मन एकाग्र न होने से आपके मन में बहुत सारे विचार एक साथ आने लगेंगे जिससे, आप हर समय थका हुआ-सा महसूस करेंगे । आपके अन्दर का उत्साह कम हो जाएगा ।

■ निष्कर्ष :-

मन एकाग्र न होने से आपको कभी सफलता नहीं मिलेगी क्योंकि, मन दिमाग का हिस्सा है, यदि एक बार आप अपने दिमाग का पूरा कंट्रोल मन को दे दोगे तो, मन दिमाग से कभी भी उस कार्य को करने को नहीं कहेगा जिसमें, आपको दिमाग पर जोर लगाना पड़ता हो जैसे – आपको किताब पढ़ने में बहुत समस्या होगी ।

आप टाइम टेबल ही बना के रह जाओगे वह कभी भी फॉलो नहीं होगा । हाँ, मन फ़िल्म देखने, बाहर घूमने, मोबाइल चलाने को अभी भी मना नहीं करेगा क्योंकि, इसमें दिमाग पर ज्यादा जोर ही नहीं पड़ता है और फालतू के काम को करने में तो हमारा दिमाग भी पीछे नहीं हटता ।

मन में एकाग्रता के बिना आप किसी भी ऐसे कार्य को नहीं कर सकते जो, आपको सफलता दिला सके क्योंकि, सफलता के दिमाग को केवल अपने लक्ष्य पर रखना होता है और मन आपको ऐसा कभी नहीं करने देगा ।


अगर आप ऊपर बताई गई परेशानियों या फिर मन को नियंत्रित न कर पाने से सम्बंधित किसी भी समस्या से परेशान हैं तो, आपको इस पोस्ट को पूरा पढ़ना चाहिए क्योंकि, 5 मिनट पढ़कर अगर आप अपने जीवन की इतनी बड़ी समस्या को दूर कर लें तो, यह बिल्कुल भी बुरा नहीं है ।

मन को नियंत्रित करने से पहले हमें यह भी जान लेना चाहिए की, आखिर मन भटकता क्यों है ? अगर हम इस प्रश्न का उत्तर जान जाएंगे तो, हमारी आधी समस्या का समाधान तो तुरंत ही हो जाएगा । तो चलिए जानते हैं –

★ मन में एकाग्रता न होने के कारण –

A) मन को एकाग्र न करने का एक कारण नींद की कमी भी हो सकती है । आजकल ज्यादातर लोग Elon Mask, Narendra Modi आदि लोगों को देखकर एकदम से अपनी नींद को बहुत कम कर देते हैं लेकिन, क्या आपको पता है की, यह लोग किस तरह का भोजन करते हैं, किस तरह का कार्य करते हैं ?

यदि आपका भोजन और कार्य इन लोगों से अलग है तो, नींद भी आपको इनको देखकर नहीं बल्कि अपने स्वास्थ्य को ध्यान में रखकर लेनी चाहिए । कम नींद लेने से आपके दिमाग पर बुरा असर पड़ता है और यदि आप नींद को एकदम से कम कर देते हो तो, यह बहुत ज्यादा गलत है, इससे आपको दिमाग और पेट से सम्बंधित अन्य काफी समस्याओं का सामना करना होगा ।

B) ज्यादा मोबाइल चलाने से, TV देखने से या हद से ज्यादा मनोरंजन से भी आप मन को एकाग्र करने में असमर्थ महसूस कर सकते हैं । लत किसी भी चीज की बुरी होती है इसलिए ज्यादा मनोरंजन करने से, ज्यादा हँसने से, ये न सोचें की अब आपका मन एकदम शांत हो जाएगा ।

C) भविष्य के बारे में केवल उतना ही सोचें जितनी जरूरत हो । अक्सर ये देखा गया है कि युवा अपने भविष्य के बारे इतना सोचते हैं जितनी की उनको आवश्यकता भी नहीं होती है । वे ऐसी चीजें भी सोचते हैं, जो शायद सम्भव ही न हो (😁), इससे हमारी ऊर्जा बेकार के कार्यों में लगती है ।

D) आपके शरीर की ऊर्जा आपके द्वारा ग्रहण किए जाने वाले भोजन पर निर्भर करती है, ऐसे में यदि आप चाइनीज चीजों को खाकर, साँड की तरह पड़े रहेंगे तो, आलस तो आएगा ही, फिर दिमाग क्या घण्टा नियंत्रित होगा ।

दिमाग को ऊर्जा की जरूरत है और यदि आप जो खाते हैं उससे, आपके शरीर को इतनी ऊर्जा नहीं मिलती है जितनी उसको आवश्यकता है तो, दिमाग भी थक जाता है और एकाग्रता में कमी आती है ।


अभी तक हम दिमाग को शांत न रहने के नुकसान और कारण पर बात कर चुके हैं । अब हम जानेंगे की, आखिर दिमाग को concentrate किस तरह से किया जा सकता है ? इस पोस्ट में हमने इसके तीन तरीके बताए हैं, जिनमें से सबसे अंतिम तरीका सबसे ज्यादा कठिन लेकिन, सबसे ज्यादा असरदार साबित होता है ।

★ दिमाग को एकाग्र करने के तरीके –

1. दिमाग की एकाग्रता के लिए सुबह जल्दी उठे :-

सुबह-सुबह हमारा ध्यान सबसे ज्यादा एकाग्र होता है इसलिए अपने दिन के जितने भी महत्वपूर्ण कार्य हैं, यदि सम्भव हो तो, उन्हें सुबह-सुबह पूर्ण करने की कोशिश करें । वैसे तो विज्ञान कहता है की, रात में देर तक जागने वाले व्यक्तियों में निर्णय लेने की क्षमता ज्यादा होती है और वे क्रिएटिव ज्यादा होते हैं लेकिन, महान लोगों का अनुभव कहता है कि यदि आप सुबह जल्दी उठते हैं और प्रकृति के साथ चलते हैं तो, प्रकृति भी आपका साथ देती है ।

2. एक समय पर एक कार्य करें :-

शायद दिमाग एक समय पर बहुत सारे कार्यों के लिए नहीं बना है इसलिए यदि आप एकसाथ बहुत सारे कार्य करते हैं तो, दिमाग भटकने लगता है । यदि आप किसी कार्य को कर रहे हैं तो, आपको सोचना भी उसी कार्य के बारे में होगा अगर आप सोच और कुछ रहे हैं और कर और कुछ रहे हैं तो, आप किसी भी कार्य पर अपना ध्यान नहीं लगा पाएंगे और दिमाग जल्दी थक जाएगा ।

3. मन को एकाग्र करने वाले संगीत सुनें :-

अगर आप पढ़ाई कर रहे हैं या फिर आपका दिमाग थक चुका है तो, आपके लिए अलग-अलग संगीत हैं । यदि आप एक विद्यार्थी हैं तो, आपको नीचे दिए गए संगीत को पढ़ते समय कम आवाज में चला लेना चाहिए । यह ध्वनि इतनी कम रखें की, आपको पढ़ने में परेशानी न हो । हो सकता है शुरू में आपको यह अजीब लगे लेकिन, इससे आपकी एकाग्रता लंबे समय तक बनी रहेगी ।
विद्यार्थियों के लिए संगीत :- Download (10MB)

यदि आपका दिमाग थक चुका है और अब आप इसे फिर से शांत करके ऊर्जावान बनाना चाहते हैं तो, आपको नीचे दिए गए music को सुनना चाहिए ।
मन शांत करने का संगीत :- Download (15MB)

★ मन को एकाग्र करने के योग –

◆ ध्यान(meditation) करें –

जी हाँ दोस्तों, “ध्यान” मन को शांत करने और नियंत्रित करने का सबसे अच्छा तरीका है । इससे मन को शांत करने के अलावा भी बहुत सारे फायदे मिलेंगे जैसे – आपको क्रोध आना कम हो जाएगा या लगभग बंद हो जाएगा, आपकी याद करने और याद रखने की क्षमता बहुत ज्यादा बढ़ जाएगी लेकिन, meditation को अच्छे से करने में आपको कम से कम 4-5 महीने का समय लग सकता है ।

अगर आप जानना चाहते हैं की, meditation क्या है और इसके क्या फायदे हैं ? इसको किस तरह से किया जा सकता है तो, यह पोस्ट पढ़ें…

मन को कैसे जीते, मन को एकाग्र करने का योग, man ko ekagra kaise kare, मन को एकाग्र कैसे करें, मन को एकाग्र करने के तरीके,
मन को एकाग्र करने के तरीके

■ अन्तिम शब्द :-

साथयों, मुझे पूरा विश्वास है की, ऊपर बताई गई जानकारी से आपको पता चल गया होगा की, मन को एकाग्र कैसे करें । मेरे अनुसार मन को एकाग्र करने का सबसे अच्छा तरीका है की, आप मेडीटेशन करना शुरू कर दें लेकिन, यह इतना भी आसान नहीं है जितना आसान यह लगता है । इसमें प्रत्येक व्यक्ति को सफलता नहीं मिलती है क्योंकि, ध्यान करने के लिए भी मन को एकाग्र करने की जरूरत होती है तो यह केवल तभी संभव है जब आप लगातार प्रैक्टिस करते रहें ।

अगर आपको इस पोस्ट से सम्बन्धित कोई भी प्रश्न पूछना है तो, आप कमेन्ट बॉक्स में पूछ सकते हैं और यदि आप विद्यार्थी हैं तो, नीचे दी गई शानदार पोस्ट को भी पढ़ सकते हैं –

  1. पढ़ाई में मन कैसे लगाएं ?
  2. विद्यार्थी मोबाइल से पैसे कैसे कमा सकते हैं ?

Leave a Comment