पेपर देने जाने से पहले क्या करना चाहिए? जिससे एग्जाम अच्छा हो

आइये जानते हैं की पेपर देने जाने से पूर्व क्या करें – अगर आपके एग्जाम बहुत ज्यादा निकट हैं और कल या परसों में आपका एग्जाम है, जिस कारण आप जानना चाहते हैं कि आपको ऐसा क्या करना चाहिए जिससे, आपका पेपर बहुत ही अच्छा जाए तो, हमारे बताएं कुछ टिप्स को फॉलो कीजिए आपको बहुत अच्छा रिजल्ट देखने को मिलेगा।

इस पोस्ट में हमने पेपर से 12 घंटे पहले से आपको क्या-क्या करना चाहिए उसके बारे में पूरी जानकारी दी है। आशा करते हैं आप हमारे द्वारा बताए गए इन टिप्स को पूरा पढ़ेंगे और फॉलो करके लाभ भी उठाएंगे। चलिए जानते हैं –

Image पर क्लिक करें और सीक्रेट टिप्स जानें.

1. पेपर से 12 घंटे पहले –

अगर आपके पास 12 घंटे का समय नहीं है तो आप पोस्ट को थोड़ा नीचे से पढ़ना शुरू कर सकते हैं। जिन बच्चों के पास अभी कम से कम 12 से 15 घंटे का समय है मतलब पेपर कल सुबह है तो, आपको 12 घंटे पहले कम से कम पिछले दो सालों के 2 अलग-अलग सेट के पेपर को सॉल्व करके देखना है।

इससे आपको काफी हद तक पता चलेगा की, पेपर में आपसे किस तरह के प्रश्न पूछे जाएंगे। ध्यान रहे आपको पेपर टाइमर लगाकर सॉल्व करना है ताकि, आपको कल सुबह पेपर देते वक्त समय को मैनेज करने में समस्या ना हो।

इन दोनों पेपरों को टाइमर लगाकर सॉल्व करने में आपका लगभग 3 घंटे (डेढ़ घण्टा/पेपर) का समय लगेगा। अभी भी आपके पास लगभग 9 घंटे का समय है। अब आपको कम से कम 6 घण्टे के लिए सोना चाहिए और सुबह जल्दी उठना चाहिए।

2. पेपर से 3 घंटे पहले –

सुबह जल्दी उठने से आपका मन शांत होता है, जिसमें आप ज्यादा जल्दी याद कर पाते हैं। अगर बात करें पेपर शुरू होने से 3 घंटे पहले कौन-कौन से कार्य करने चाहिए तो, उनमें से सबसे मुख्य कार्य है कि आपको कम से कम 2 घंटे का समय अपने नोट्स को दोहराने में लगाना चाहिए। इस समय में आपको कुछ भी नये और भारी टॉपिक को समझने की कोशिश नहीं करनी है।

इसे जरूर पढ़ें: 1 दिन में पेपर की तैयारी कैसे करें?

जो कुछ आपको आता है उसे और अच्छे से समझने का प्रयास करना है और ध्यान देना है कि कोई आसान सा टॉपिक छूट तो नहीं रहा है। ऐसा देखते हुए आपको 2 घंटे में पूरे नोट्स पर निगाह दौड़ा लेनी है।

अब से 3 घंटे बाद आपका एग्जाम है इसलिए आपको कुछ भी ऐसा नहीं खाना है जो आपको गैस बनाए या जल्दी न पचने वाला हो। अगर पेपर के बीच में आपको गैस, एसिडिटी, पेट दर्द जैसी समस्या होती है तो यह आपकी परफॉर्मेंस पर गलत असर डालेंगी। पढ़ते समय भी ध्यान रखें की बाहर की तेल में तली हुई कुछ भी चीज न खाए।

3. पेपर से 1 घंटे पहले –

अब पेपर में केवल एक घंटा बाकी है, अगर आपका एग्जाम सेंटर आपसे काफी दूर है, तो आप रेडी होकर एग्जाम के लिए निकल सकते हैं। एडमिट कार्ड, पेन, कुछ पैसे और अगर रास्ते में जाते-जाते भी नोट्स दोहराना चाहते हैं, तो नोट्स भी आपने मेरे बिना बताए ही रख लिए होंगे।

पेपर से 1 घंटे पहले आप को तेजी से बहुत कुछ पढ़ने की कोशिश नहीं करनी चाहिए और ना ही दिमाग पर बहुत ज्यादा जोर देना चाहिए। आप 1 घंटे में बहुत कुछ तो याद नहीं कर पाएंगे लेकिन, यदि आप ज्यादा हड़बड़ी दिखाएंगे तो, आपको अपने आप पर पढ़ाई को लेकर डाउट होना शुरू हो जाएगा।

4. पेपर से आधे घंटे पहले –

हो सकता है पेपर से आधे घंटे पहले आप एग्जाम सेंटर पहुंच गए होंगे। यदि एग्जाम सेंटर ज्यादा दूर नहीं है तो भी, पेपर शुरू होने से कम से कम 20 से 25 मिनट पहले एग्जाम सेंटर पर पहुंचना अच्छा होता है। अब आपको सबसे पहले अपनी सीट खोजनी है और पेपर शुरू होने से 10-15 मिनट पहले आप क्लास के बाहर थोड़ा टहल सकते हैं या पानी पीकर आ सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: पढ़ाई में मन लगाने का तरीके।

कोशिश कीजिए कि इस बीच अपने दोस्तों के साथ मटरगश्ती न की जाए और न ही बहुत टेंशन में रहना है क्योंकि, आपको पढ़ने के लिए पूरा एक साल मिला था। अब आप चाहे भी तो कुछ ज्यादा नहीं पढ़ पाएंगे इसलिए पेपर शुरू होने से आधे घंटे पहले चीजों को पढ़ने पर बहुत ज्यादा ध्यान नहीं देना है बल्कि, मन को शांत रखने की कोशिश करें।

अब आपके करने का कार्य आप कर चुके हैं, अब आप पेपर की तैयारी को लेकर टेंशन फ्री हो जाइये और ईश्वर पर विश्वास रखिए। 🙂

5. पेपर से 10 मिनट पहले –

अब पेपर में केवल 10 मिनट का समय है जिसमें आप केवल अपनी सीट पर जाकर बैठ सकते हैं और 2-4 लंबी-लंबी श्वास ले सकते हैं। दिमाग को यहां-वहां बहुत ज्यादा न दौड़ाएं बल्कि, अपनी सीट पर बैठकर पेपर शुरू होने का इंतजार करें।

6. पेपर देखने से पहले –

पेपर मिलते ही बहुत सारे स्टूडेंट पेपर पर झपट पड़ते हैं और एक बार में ही सारा पेपर पढ़ डालते हैं। कुछ स्टूडेंट तो पेपर शुरू होने के शुरुआती 5 मिनट में ही बहुत ज्यादा परेशान हो जाते हैं, क्योंकि पेपर उनकी याद का नहीं होता है।

कुछ स्टूडेंट पेपर देखते ही बहुत ज्यादा खुश हो जाते हैं, जिस खुशी में भी 1-2 प्रश्नों को गलत पढ़ लेते हैं और गलत उत्तर लिख आते हैं। आपको इन दोनों में से किसी भी स्टूडेंट को फॉलो नहीं करना है।

इसे भी पढ़ें: जानिए देर रात तक पढ़ाई कैसे करें?

मैं शुरुआत में ही पेपर को पूरा पढ़ने की सलाह नहीं देता हूं। मुझे लगता है कि हमें पेपर को शुरू में ही पूरा नहीं पढ़ना चाहिए इससे, हमारे मन में तुरंत ही सभी प्रश्नों के उत्तर आने लगते हैं और दिमाग पर बहुत ज्यादा जोर पड़ता है।

आप क्वेश्चन पेपर को आधा पढ़कर सॉल्व करना शुरू कर सकते हैं, जब आप आधा क्वेश्चन पेपर सॉल्व कर ले उसके बाद आप अगला पेपर देख सकते हैं।

7. पेपर करते समय –

पेपर करते समय ध्यान रखने वाली जो सबसे महत्वपूर्ण बात है वह यह है कि, आपको पता होना चाहिए कि आपको कितने नंबर के प्रश्न को कितना समय देना है और किस हिसाब से पेपर करना है की, समय खत्म होने से 10 मिनट पहले ही आप सारा पेपर सॉल्व कर पाए।

आपका पेपर सही समय पर पूरा हो इसके लिए आपको अपनी राइटिंग स्पीड पर बहुत ज्यादा ध्यान देना चाहिए और यदि अच्छे नंबर चाहते हैं तो, अच्छी हैंडराइटिंग होना भी बहुत ज्यादा जरूरी है। हैंडराइटिंग सुधारने के टिप्स हम पहले ही आपके साथ शेयर कर चुके हैं।

8. पेपर के बाद –

पूरा पेपर सॉल्व करने के बाद यदि आपको पूरा पेपर आता भी था, फिर भी बहुत ज्यादा उत्साहित होने से बचे। कोशिश करें कि फ्री बैठने के बजाय बार-बार यह देखते रहे कि कहीं कोई प्रश्न छूट तो नहीं गया है। पेपर सॉल्व करने के 10 मिनट बाद तक आपको बार-बार यही देखते रहना है और आपने किसी प्रश्न का उत्तर जल्दबाजी में गलत न लिख दिया हो, इसे भी चेक करते रहना है।

बहुत सारे बच्चे पेपर खत्म होने के बाद पेपर पर बहुत ज्यादा डिस्कशन करते हैं और बाद में पेपर को बार-बार सॉल्व करके देखते रहते हैं। मुझे लगता है कि आपको ऐसा नहीं करना चाहिए बल्कि, पेपर करने के बाद आपको उस पेपर को दोबारा खोलकर भी नहीं देखना चाहिए इससे, आप बिना वजह की टेंशन से बच जाएंगे।

अब जो आप पेपर में आप करके आ चुके हैं, आप उसे बदल नहीं सकते हैं तो, पेपर को बार-बार पढ़कर या सॉल्व करके बार-बार देखने से क्या फायदा? आपने कितना सही किया है, कितना गलत किया है, वह तो रिजल्ट में पता चल ही जाएगा।

लगातार पूछे जाने वाले प्रश्न:

Q. क्या खाकर एग्जाम देने जाएं?

कुछ भी हल्का भोजन खाकर जाएं (फ़ास्ट फ़ूड न खाकर जाएं)।

Q. पढ़ाई में मन लगाने के लिए क्या खाना चाहिए?

अंकुरित अनाज और दही, अंडा आदि खाने से याद्दाश्त अच्छी रहती है।

Q. बिना पढ़े परीक्षा में पास होने का तरीका क्या है?

कोई तरीका नहीं है। कम पढ़कर तो पास हो सकते हो लेकिन बिना पढ़े नहीं।

Q. एग्जाम में अच्छे अंक लाने के लिए कैसे एग्जाम दें?

अच्छी हैंडराइटिंग में लिखो, समय को मैनेज करके चलो और हद से ज्यादा मत घबराओ।

अंतिम शब्द –

आपको आज यह पोस्ट कैसी लगी हमें कमेंट में बताना ना भूले और इस पोस्ट को ऐसे सभी अपने साथियों के साथ शेयर करें जिनका एग्जाम बहुत निकट है। साथ ही अगर इस पोस्ट से संबंधित आपके मन में कोई प्रश्न रह गया है तो उसे भी आप कमेंट में बता सकते हैं हम आपको तुरंत ही उस प्रश्न का उत्तर देने का प्रयास करेंगे।

हमारी शुभकामनाएं आपके साथ हैं, विश्वास कीजिए आपका पेपर अच्छा ही होगा। 🙂

1 thought on “पेपर देने जाने से पहले क्या करना चाहिए? जिससे एग्जाम अच्छा हो”

  1. Mera kal exam hai so main jo yha likha hai bo pura read kiy I hope kal or mare sare exam best honge.. be positive 😌💜🤞

    Reply

Leave a Comment