इन मंत्रों से होती है शनिदेव की कृपा, चमक जाता है भाग्य का सिक्का

सभी सनातनी ऐसा मानते हैं की शनिवार का दिन शनिदेव का दिन है, जोकि न्याय के देवता है। ये जिसको दण्ड देना शुरू करते हैं उसकी जिंदगी धरती पर ही नरक जैसी हो जाती है। जीवन में कभी अगर शनिदेव नाराज हो जाएं तो, व्यक्ति को किसी भी क्षेत्र में सफलता नहीं मिलती है। धार्मिक पुस्तकें बताती हैं की, प्राणी अपने पूरे जीवन में जिस तरह के कर्म करता है, शनिदेव उसको उसी तरह का फल देते हैं।

शनिदेव की पूजा-पाठ करने की अहमियत –

व्यक्ति यदि कोई भी बुरा कर्म या अच्छा कर्म, चाहे अपनी मर्जी से करे या उससे गलती से हो जाए, शनिदेव सबका हिसाब रखते हैं। दुनिया में दे बहुत सारे लोग हैं जिनका शनि खराब रहता है, जिस कारण वे चाहे जितनी मेहनत कर ले परिणाम शून्य ही आता है, ऐसे में व्यक्ति अगर शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए उनकी पूज करता है तो, परिणाम सकारात्मक हो सकते हैं। चलिए आपको बताते हैं शनिवार को शनिदेव की पूजा करने का सही तरीका क्या है –

Image पर क्लिक करें और सीक्रेट टिप्स जानें.

शनि महाराज की पूजा किस तरह करें?

शनिवार को शनिदेव की पूजा करना सबसे उत्तम माना जाता है, इस दिन आपको शनिदेव के सामने एक तेल का दीपक जलाना है, ध्यान रखें की दीपक को शनिदेव के सम्मुख न रखते हुए शिला के सम्मुख रखें। इस दिन आप मंदिर जाएं और जरूरतमंद लोगों को तेल का दान दें। इस दिन सरसों के तेल का दान करना अच्छा माना जाता है।

कोशिश करें की इस दिन आप मंदिर जाएं और वहाँ आराधना करें या फिर आप घर पर रहकर ही, शनि चालीसा और शनिदेव के मंत्रों का जाप करेंगे तो शनिदेव आपपर कृपा करेंगे। इस दिन शनिदेव को तेल के अलावा काले तिल, उदड़ अथवा अन्य कोई भी काली चीज भेंट करें।

इस दिन यदि आप शनिदेव की पूजा के बाद हनुमान जी की पूजा भी करेंगे तो, आपको ज्यादा लाभ होगा। हनुमान जी की पूजा करके आप बजरंगबली को सिंदूर, केला चढ़ाएं और अपनी इच्छा को प्रभु के सामने रखेंगे तो, बहुत जल्दी आपके काम बनते चले जाएंगे।

शनिदेव के किन मंत्रों का जाप करें?

नीचे हमने टेबल में कुछ मंत्र दिए हैं, जिनका जाप आपको शनिदेव की पूजा के समय करना है। शनिदेव को खुश करने वाले ये सभी मंत्र आपके मन की शान्ति के लिए भी अति उत्तम हैं।

1.ॐ शन्नोदेवीरभिष्टय आपो भवन्तु पीतये शन्योरभिस्त्रवन्तु न:
2.ॐ प्रां प्रीं प्रौं स: शनैश्चराय नम:
3.ॐ ऐं ह्लीं श्रीशनैश्चराय नम:

Disclaimer – इस पोस्ट में लिखी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं के आधार पर लिखी गई हैं।HindiRaja.in इनकी सत्यता की पुष्टि नहीं करता है। इनमें से किसी भी बात को फॉलो करने से पहले इस बिषय के जानकार से राय जरूर लें।

Leave a Comment