अब जर्मनी को पीछे करने की बारी, भारत की अर्थवयवस्था आने वाली है चौथे न. पर

यह तो आपको पता की ही होगा की इस समय भारत दुनिया में पाँचवी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। जिसमें न. 1 अमेरिका उसके बाद चीन, जापान, और जर्मनी जैसे देश आते हैं। लेकिन अनुमान है की यह साल 2024 भारत के लिए खुशखबरी वाला साल होने जा रहा है क्योंकि, इस साल भारत जीडीपी के मामले में जर्मनी को भी पीछे कर सकता है।

उम्मीद यह की जा रही है की भारत सन् 2024-25 में 4 हजार अरब डॉलर की इकॉनमी का रिकॉर्ड तोड़कर आगे बढ़ने वाला है। इसके बाद भी भारत रुकने वाला नहीं है बल्कि, 2026-27 में यह आकड़ा बढ़कर 5 हजार अरब डॉलर होने का अनुमान लगाया जा रहा है।

Image पर क्लिक करें और सीक्रेट टिप्स जानें.

खबर है की भारत की अर्थव्यवस्था लगातार तेजी से मजबूत होती जा रही है। जिस तरह से दुनिया में आने वाली बड़ी समस्याओं के बीच भी भारतीय अर्थव्यवस्था ने खुद को मजबूत किया है, यह सराहनीय है।

इस समय भारत 2047 तक खुद को एक विकसित राष्ट्र के रूप में दुनिया के सामने लाने के लिए, तेजी से विकास के मार्ग पर अग्रसर होता दिखाई दे रहा है।

आर्थिक विकास में तेजी लाने के लिए जरूरी चीजें –

पीएचडी चेंबर के उप-महासचिव एसपी शर्मा का मानना है की आर्थिक वृद्धि की गति को और तेज करने के लिए असंगठित क्षेत्र पर और ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है।

उनके द्वारा यह भी बताया गया की छोटे व्यापारियों की मदद करने के लिए बैंकिंग सेक्टर को और ज्यादा मजबूत करने की भी जरुरत है।

रिपोर्ट है की केंद्रीय बैंक इस साल के लास्ट तक रेपो दर में 1% तक की कटौती करके इसे 5.5% पर ला सकता है।

Leave a Comment