ट्विटर के बाद अब क्या कर रहे हैं पराग अग्रवाल, कुछ कमाल करने की तैयारी

ट्विटर के पूर्व CEO पराग अग्रवाल ने जब से ट्विटर से स्तीफा दिया है, उसके बाद से सोशल मीडिया पर उनकी कोई भी खबर सुनने को नहीं मिली है। आखिर अब किस प्रोजेक्ट पर काम कर रहे हैं पराग अग्रवाल…

आपने भी कुछ समय पहले पराग अग्रवाल को ट्विटर से निकाले जाने वाली खबर तो सुनी ही होगी। यह खबर उस समय आई थी जब दुनिया के जानेमाने बिजनेसमैन एलन मस्क द्वारा ट्विटर को खरीद लिया गया था।

Image पर क्लिक करें और सीक्रेट टिप्स जानें.

आपको बता दें की ट्विटर से स्तीफा देने के बाद पराग अग्रवाल एक AI से जुड़े स्टार्टअप पर काम कर रहे हैं और खबर है की उनको कुछ समय पहले ही अपने स्टार्टअप के लिए बड़ी फंडिंग भी मिली है। यह फंडिंग खोसला बेंचर्स द्वारा दी गई है। इसके अलावा और भी कुछ कम्पनी हैं जो इस स्टार्टअप में पैसा लगाने के लिए इंट्रेस्टेड हैं।

स्टार्टअप के लिए मिली फंडिंग –

खबर है की इस स्टार्टअप के लिए अब तक कम्पनी लगभग 30 मिलियन की फंडिंग पा चुकी है। पराग अग्रवाल का स्टार्टअप इस पैसे का इस्तेमाल खुद को समय के साथ अपडेट-अपग्रेड करने में इस्तेमाल करने वाला है।

किस बारे में है पराग अग्रवाल का स्टार्टअप –

अभी तक इससे जुड़ी ज्यादा खबर तो मौजूद नहीं है लेकिन, सूत्रों से मिली खबर के मुताबिक़ कम्पनी किसी ऐसे सॉफ्टवेयर को बनाने के लिए काम कर रही है, जो AI बेस्ट ऐसा सॉफ्टवेयर होगा जो आपके सवालों का जवाब देने के लिए बहुत सारे जवाब को मिलाकर एक बेहतरीन जवाब तैयार करेगा।

कम्पनी द्वारा लार्ज लैंग्वेज मॉडल के लिए बनाए इस सॉफ्टवेयर को आप गूगल के बार्ड या Chat GPT की तरह ही मान सकते हैं। इसी के साथ-साथ कम्पनी इसमें कुछ यूनिक फीचर भी ला सकती है ताकि, उनका सॉफ्टवेयर मार्केट में मौजूद AI बेस्ड टूल्स को टक्कर दे सके।

पराग अग्रवाल के बारे में –

यह एक भारतीय मूल के अमेरिकी सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं जो, कुछ समय पहले तक ट्विटर जैसी बड़ी कंपनी (जिसका नाम बदलकर अब एक्स किया जा चूका है) में CEO थे। इसको CEO का यह पद 29 नवम्बर 2021 को मिला था जिसे इन्होने 2022 में छोड़कर खुद का स्टार्टअप किया है। आपको बता दें की पराग अग्रवाल जो दुनिया में अपनी पहचान बनाए हुए हैं, ये भारत के राजस्थान राज्य के निवासी हैं। इन्होने IIT बॉम्बे से बीटेक की डिग्री ली है।

Leave a Comment