बिना ज्यादा पढ़े परीक्षा में पास कैसे हो, जानिए 8 धाँसू तरीके

बिना पढ़े परीक्षा में पास कैसे हो – अगर आपने पूरे साल बिल्कुल भी पढ़ाई नहीं की है और अब एग्जाम बहुत ही जल्दी आने वाले हैं और आपको टेंशन हो रही है की कहीं आप फेल न हो जाएं या आपके नंबर बहुत ही ज्यादा कम न आ जाए तो, यह पोस्ट आपकी थोड़ी बहुत मदद कर सकती है।

अगर आप इस पोस्ट को पेपर से लगभग 10-12 घण्टा पहले देख रहे हो, फिर भी आपको काफी हेल्प मिलेगी क्योंकि, इस पोस्ट में हम आपको ऐसे 8 तरीकों के बारे में बताएंगे जिनको पढ़कर आप यदि थोड़ा बहुत भी पढ़ लेते हैं तो, आपके फेल होने की संभावना बहुत ज्यादा कम हो जाएगी। आइये मुद्दे की बात पर आते हैं और जानते हैं की वे 8 तरीके क्या है –

Image पर क्लिक करें और सीक्रेट टिप्स जानें.

#1. पेपर के पैटर्न को समझें –

आप किसी भी क्लास का एग्जाम दे रहे हो या किसी प्रतियोगी परीक्षा के लिए जा रहे हैं, सबसे पहले जरूरी है की आप पेपर को अच्छे से समझें की पेपर में किस तरह के प्रश्न आते हैं और उनमें से कितने ऐसे प्रश्न आते हैं जो हर बार आ रहे हैं या ज्यादातर बार पूछे जाते हैं।

महत्वपूर्ण पोस्ट: परीक्षा देने जाने से पहले क्या करना चाहिए?

अगर आप 1-12 तक किसी भी क्लास में हैं तो, प्रत्येक बिषय में कुछ चैप्टर ऐसे होते हैं जिनमें से बहुत ज्यादा प्रश्न पूछे जाते हैं और कई बार तो कुछ टॉपिक भी इतने महत्वपूर्ण होते हैं जिन्हें हर बर्ष घुमा-फिराकर पेपर में रखा ही जाता है इसलिए जरूरी है की, पेपर देने जाने से पहले आप पेपर को अच्छे से समझें।

#2. अब चिंता व्यर्थ है –

अगर आपने बिल्कुल भी कुछ नहीं पढ़ा है और अगले कुछ दिनों या कुछ घंटों में पेपर है और आपको फेल होने का खतरा लग रहा है या बहुत कम अंक आने के डर से आप चिंतित हैं तो, अब इससे कोई फायदा नहीं है बल्कि नुकसान ही है।

आप जितना ज्यादा टेंशन लेंगे उतना ही आपका ध्यान पढ़ाई से हटेगा। अगर आपको लग रहा है की आप फेल हो जाएंगे तो, इसमें तो आप कुछ नहीं कर सकते लेकिन, बचे हुए समय में थोड़ा-बहुत पढ़ जरूर सकते हैं तो, क्यों न बचे हुए समय में मन लगाकर पढ़ ही लिया जाए क्योंकि, यही परिणाम को बदल सकता है।

#3. कुछ पेपर्स सॉल्व करें –

अगर आपके पेपर में कुछ ही घण्टों का समय है, फिर भी आप पिछले कुछ सालों के पेपर सॉल्व करके अपने लेवल को थोड़ा-सा बढ़ा सकते हैं।

जैसा की मैं पहले भी बता चुका हूँ की, कुछ प्रश्न इतने महत्वपूर्ण होते हैं वे हर साल के पेपर में किसी न किसी रूप में आते ही रहते हैं, कभी शॉर्ट क्वेश्चन के रूप में, कभी लॉन्ग क्वेश्चन के रूप में आते ही रहते हैं। आपको ऐसे ही प्रश्नों को तैयार करने की कोशिश करनी है।

ऐसे प्रश्नों को आप पिछले 5 साल के पेपर देखकर खोज सकते हैं। आपको सभी पेपर्स को देखकर खुद ही आईडिया हो जाएगा।

#4. होशियार बच्चे के नोट्स लें –

अगर आप सच में पास होना चाहते हैं और अभी आपके पास 1-2 दिन का समय भी है, फिर भी आपको किसी होशियार बच्चे से नोट्स लेकर कुछ न कुछ पढ़ाई जरूर करनी चाहिए। ऐसा कभी नहीं होगा की आपको Physics के पेपर में केवल physics की स्पेलिंग आती है और आप पास होने की आशा में हैं।

जरूर पढ़ें: कम्पटीशन की तैयारी कैसे शुरू करें?

अगर आपको थोड़ा-सा भी कुछ याद रहता है तो, इसका आपको पेपर में बहुत ज्यादा फायदा होगा। फायदा क्या होगा इसके बारे में अगले पॉइंट में बताया गया है।

#5. सम्बंधित जानकारी लिखें –

अगर आपने पहले कुछ भी उस प्रश्न से सम्बंधित जानकारी पढ़ी है या अपने पिछली कक्षाओं में उस टॉपिक के बारे में पढ़ा है तो, आपको थोड़ा-सा दिमाग लगाकर उस लिमिटेड जानकारी को ही बढ़ा-चढ़ाकर लिख देना है।

यह तभी संभव है जब आपको आईडिया हो की, प्रश्न में क्या पूछा गया है। अगर आपके 1-2 पॉइंट भी सही होते हैं फिर भी कॉपी चेक करते वक्त टीचर आपको 0 नंबर नहीं देगा लेकिन, ऐसा भी नहीं है की पेपर में शीला की जवानी लिखकर आप पास हो सकते हैं।

#6. प्रश्न न छोड़ें –

अगर आप पेपर में आए सभी प्रश्नों का उत्तर लिखकर आते हैं और ज्यादातर प्रश्नों के उत्तर के बारे में आपको थोड़ी-बहुत जानकारी थी तो, आपके पास होने की संभावना काफी बढ़ जाएगी। कोशिश करें की ऐसे प्रश्नों के उत्तर पहले लिखें जो, आपको सबसे अच्छे से आते हों।

इससे टीचर को लगेगा की आप उतने भी कमजोर नहीं हैं और यदि टीचर को और अधिक इम्प्रेस करना है तो, अगला पॉइंट इसी पर है।

#7. लिखाबट पर विशेष ध्यान दें –

अगर आप ऊपर दिए सभी पॉइंट्स को ध्यान में रखते हैं और साथ में आप अच्छी तरह से लिखते भी हैं तो, आपको थोड़े से ज्यादा नंबर लाने में मदद जरूर मिलेगी। कई बार ऐसे बच्चों के नंबर भी कम आ जाते हैं, जिनको काफी कुछ याद रहता है और वे लिखकर भी आते हैं।

उनके नंबर कम आने का सबसे बड़ा कारण यही होता है की, उनका हैंडराइटिंग बिल्कुल भी अच्छा नहीं होता है। वे पूरे सालभर अपना ध्यान केवल चीजों को याद करने पर लगाते हैं और लिखावट पर ध्यान नहीं देते हैं, जिस कारण उनके नंबर कटते हैं।

अगर आप सुंदर-सुंदर लिख सकते हैं तो, आपको कम नॉलेज होने पर भी अच्छी लिखावट का लाभ मिल सकता है। यदि आपके पास अभी 10-15 दिन का समय हो तो, आप लिखावट सुधारने के तरीके वाली पोस्ट भी पढ़ सकते हैं।

#8. उत्तर में शब्दों की संख्या –

कोशिश करें की यदि क्वेश्चन पेपर में उत्तर की लिमिट दी गई है की, कितने शब्दों में उत्तर लिखना है तो, उतने ही शब्दों में उत्तर लिखें। कई स्टूडेंट्स अधिक नंबर के लालच में बड़ा उत्तर लिखते हैं, पहले इस तरह से उत्तर लिखने का फायदा भी मिलता था लेकिन, अब इसका फायदा नहीं मिलता है।

आपको उत्तर का वर्ड काउंट प्रश्न के हिसाब से रखना है। यदि प्रश्न 1 नम्बर का है तो उसपर ज्यादा समय खराब न करें बल्कि, ज्यादा अंक वाले उत्तर को पहले हल करें। यदि बहुविकल्पीय प्रश्न हैं तो, ससबसे पहले उन्हें सॉल्व करें।

#9. बहुविकल्पीय प्रश्नों को ऐसे हल करें –

आजकल बहुत सारे एग्जाम में बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाते हैं और स्कूल एग्जाम में सबसे अच्छी बात यह होती है की, वहां माइनस मार्किंग नहीं होती है मतलब, गलत उत्तर चुनने पर केवल उतने ही नंबर कटेंगे जितने नंबर का वह प्रश्न है।

माइनस मार्किंग न होने की बजह से तुक्का लगाना भी क्वेश्चन को छोड़कर आने से लाख गुना अच्छा है। आपको अगर बहुविकल्पीय प्रश्नों में तुक्का लगाना हो तो, कुछ याद न होने की स्थिति में विकल्प न. 1 या 3 को टिक कर सकते हैं। उनके सही होने की संभावना अधिक होती है।

इसे भी पढ़ें: GK कैसे याद करें?

यह प्रतियोगी परीक्षा में उतनी ज्यादा कारगर नहीं है, फिर भी बच्चे इस ट्रिक का इस्तेमाल बड़ी-बड़ी परीक्षा जैसे UPSC के प्रीलिम्स एग्जाम में भी करते हैं। बस याद न होने की स्थिति में किसी भी एक विकल्प को चुनकर सभी में टिक लगा देते हैं। यह तुक्का जब बहुत अच्छा काम करता है जब किसी एक या दो विकल्प के ना होने के बारे में 100% जानकारी हो।

एग्जाम में न करें ये गलती –

कुछ ऐसी गलतियां हैं जो बच्चे अक्सर करते हैं, आपको इस तरह की गलती करने से बचना चाहिए क्योंकि, इनसे आपको फायदे के बजाय नुकसान उठाना पड़ सकता है। ये गलतियाँ निम्नलिखित हैं –

  • कॉपी में पैसे रखना।
  • कॉपी में विनती लिखना।
  • कॉपी में गाना या कोई कहानी लिखना।
  • पेपर में नकल करना।
  • कॉपी पर अपना नाम या जातिसूचक शब्दों का प्रयोग करना।

अंतिम वार्ता –

अब आपको दोबारा यह नहीं पूछना पड़ेगा की, बिना पढ़े परीक्षा में पास कैसे हो क्योंकि, आपने इस पोस्ट को पढ़कर जरूरी जानकारी हासिल कर ली है। अब वक्त है इस जानकारी को फॉलो करने का, इसलिए समय बर्बाद न करते हुए इसे फॉलो कीजिए और साथ ही अपने ऐसे दोस्तों के साथ भी शेयर कर दीजिए जिन्होंने, इस एग्जाम के लिए बहुत ज्यादा पढ़ाई नहीं की है।

अगर आपको और कोई आसान तरीका पता है, जिससे कम पढ़ाई के बाद भी पास होने की संभावना बढ़ सकती है तो, ऐसे शानदार तरीके को कमेंट में सभी को बताना न भूलें।

Leave a Comment