माता लक्ष्मी की पूजा में जरूर रखें ये चीजें, धन की देवी की प्रिय हैं ये चीजें

धन की देवी मानी जाने वाली लक्ष्मी माता जिसपर भी प्रसन्न हो जाती हैं, उसको दौलतमंद बना देती हैं और जिससे नाराज हो जाती हैं, उसकी जिंदगी की तंगी किसी से नहीं देखी जाती। आपने भी अपने आस-पास देखा होगा की शुक्रवार को माता लक्ष्मी जी के भक्त उनकी पूजा करते हैं और उनका आशीर्वाद पाने के लिए माता को अलग-अलग चीजों का भोग भी लगाते हैं।

क्या आपको पता है की धार्मिक ग्रंथों में धन की देवी बताई जाने वाली लक्ष्मी जी को कौन सी चीज का भोग लगाना सबसे उत्तम माना जाता है। वैसे तो भगवान भक्त के मन में केवल श्रद्धा देखते हैं इसलिए यदि कोई इस योग्य नहीं है की वह इन सब चीजों का भोग माता को लगा पाए तो, उसे निराश नहीं होना चाहिए।

Image पर क्लिक करें और सीक्रेट टिप्स जानें.

लेकिन यदि आप योग्य हैं तो आपको इन पाँच चीजों का भोग माता को जरूर लगाना चाहिए क्योंकि यह माता को प्रिय है –

नारियल है माता लक्ष्मी का प्रिय –

सनातन धर्म में नारियल को माता लक्ष्मी जी का प्रिय होने के कारण ही श्री फल के नाम से जानते हैं। शुक्रवार का दिन सबसे शुभ दिन होता है जब आप नारियल का लड्डू अथवा कच्चा नारियल और जल से भरा नारियल भी लक्ष्मी जी को अर्पित करके उनसे आशीर्वाद प्राप्त कर सकते हैं।

देवी लक्ष्मी को अर्पित करें सिंघाड़ा –

अगर सिंघाड़े का सीज़न चल रहा है और आप लक्ष्मी जी की पूजा करते हैं तो, आपको लक्ष्मी देवी को सिंघाड़े का भोग भी जरूर लगाना चाहिए। ऐसा कहा जाता है की जो भी फल पानी से संबन्ध रखता है, वह माता लक्ष्मी का प्रिय होता है। यह तो आप भी जानते हैं की सिंघाड़ा तो चलता ही पानी में है, जिस कारण यह भी माता को भोग लगाने के लिए सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है।

लक्ष्मी जी को पान का भोग लगाएं –

अगर आपको माता लक्ष्मी जी का आशीर्वाद चाहिए तो पूजा करने के बाद माता को सच्चे मन से पान का भोग लगाना न भूलें। इसको भी माता का प्रिय माना गया है, जिसके भोग लगाने से माता खुश होती हैं।

धन की देवी को प्रिय है मखाना –

भले ही मखाना देखने में सूखा लगे लेकिन, यह भी पानी में ही पला-बढ़ा होता है, जिस कारण माता की पूजा में इसे भी इस्तेमाल किया जाता है और देवी को इसका भोग लगाया जाता है। अगर आप शुक्रवार को लक्ष्मी जी के मंदिर जाएं अथवा किसी भी दिन जाएं तो, मखाना का प्रसाद माता को जरूर चढ़ाएं, ऐसा कहते हैं की इससे माता अपने भक्तों की मन की इच्छापूर्ति करती हैं और उनपर धनबर्षा होती है।

लक्ष्मी जी को बताशे चढ़ाना न भूलें –

धार्मिक पुस्तकों के हिसाब से बताशे का संबंध चन्द्रमा से बताया गया है और चंद्रमा लक्ष्मी देवी का भाई है, जिस कारण ऐसा कहा जाता है की बताशे भी माता की प्रिय चीजों में से एक है। माता के भक्त जब भी मंदिर आते हैं तो, कभी भी बताशे का भोग लगाए बिना घर नहीं लौटते।

श्रद्धा है सर्वोपरि –

अगर आपके मन में भक्तिभाव नहीं है तो आप चाहे उपरोक्त बताई चीज कितनी भी बार चढ़ाएं और कितनी ही मात्रा में चढ़ाएं, आपको फल कभी नहीं मिलेगा। इसके विपरीत अगर आप पूरी श्रद्धा और भक्ति के साथ माता को किसी भी सूखे मेवे, फल आदि का भोग लगाएंगे तो माता का आशीर्वाद प्राप्त कर पाएंगे।

Disclaimer – इस पोस्ट में लिखी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं के आधार पर लिखी गई हैं।HindiRaja.in इनकी सत्यता की पुष्टि नहीं करता है। इनमें से किसी भी बात को फॉलो करने से पहले इस बिषय के जानकार से राय जरूर लें।

Leave a Comment