सामान्य ज्ञान की तैयारी कैसे करें | प्रतियोगी परीक्षा में GK में लाएं पूरे अंक

सामान्य ज्ञान की तैयारी कैसे करें – चाहे कोई भी प्रतियोगी परीक्षा हो लगभग सभी में सामान्य ज्ञान पूछा जाता है। इसकी सबसे अच्छी बात यह भी होती है कि इसमें आपको Maths की तरह कोई कैलकुलेशन नहीं करनी पड़ती है और आपको तुरंत उत्तर पता होता है इसलिए आप झट से उत्तर चुनकर आगे बढ़ जाते हैं जिसकी बजह से आपका समय बहुत ज्यादा बचता है।

बच्चे हमेशा शुरुआत में गलत तरीके से GK याद करने में लगे रहते हैं, गलत तरीके से याद करने के कारण वे लंबे समय तक याद नहीं रख पाते हैं और फिर उन्हें सामान्य ज्ञान बिषय भारी लगने लगता है इसलिए, आज की पोस्ट का मुख्य बिषय है कि प्रतियोगी परीक्षा के लिए GK कैसे याद करें की, सामान्य ज्ञान वाले क्वेश्चन को देखते ही सही उत्तर चुन सकें।

Image पर क्लिक करें और सीक्रेट टिप्स जानें.

केवल इन तरीकों को पढ़ने से कुछ नहीं होगा बल्कि, इन तरीकों को फॉलो भी करना जरूरी है। अगर आप इन तरीकों को फॉलो करेंगे तो, GK याद करना और याद रखना सबसे आसान काम हो जाएगा। आइये GK याद करने के तरीके जानते हैं –

★ न्यूज़पेपर से मिलेगी जनरल नॉलेज और करेंट अफेयर्स –

शुरुआत में जब भी आप किसी एग्जाम के लिए जनरल नॉलेज पढ़ना शुरू कर रहे हैं और आपने आज से पहले कभी भी कोई एग्जाम नहीं दिया है और सामान्य ज्ञान में बहुत कमजोर हैं तो, सबसे पहले न्यूज़ पढ़ना शुरू करें।

इसे पढ़ें: प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे शुरू करें?

शुरुआत में नोट्स बनाने की जरूरत नहीं है, आप केवल 1 महीने तक न्यूज़पेपर को ध्यान से पढ़ें। अगर आपके पास पर्याप्त समय है तो, यह तरीका आपके दिमाग को सामान्य ज्ञान याद करने के लिए तैयार करेगा।

★ NCERT को जरूर पढ़ें –

अगर आप किसी बड़े एग्जाम की तैयारी के बारे में सोच रहे हैं तो, आपको शुरुआत में कक्षा 6 की NCERT की इतिहास, भूगोल आदि की किताब पढ़नी चाहिए। इसके बाद आप कक्षा 7-12 तक की किताब पढ़ सकते हैं।

यदि आआप सामान्य ज्ञान में इतने भी कमजोर नहीं है तो केवल 10-12 कक्षा की इतिहास, भूलोग आदि की किताब से भी काम चल सकता है। हमने कक्षा 6 से शुरुआत करने के लिए इसलिए कहा है क्योंकि, कक्षा 6 की किताब में भाषा थोड़ी-सी आसान होती है और सिलेबस काफी कम होता है।

★ कहानी की तरह याद करें –

सामान्य ज्ञान को याद करने के लिए सबसे बड़ी गलती जो ज्यादातर बच्चे करते हैं, वो है कि वे सीधे ही लूसेन्ट की बहुविकल्पीय वाली सामान्य ज्ञान की बुक से रटना शुरू करते हैं।फिर वे आगे के सभी प्रश्न और उत्तर रटते जाते हैं और पीछे के सभी प्रश्नों को भूलते जाते हैं।

जब वे 2-3 बार ऐसा कर लेते हैं और पूरी-पूरी बुक को पढ़ने के बाद भी ज्यादातर हिस्सा भूल जाते हैं तो, उन्हें सामान्य ज्ञान याद करना कठिन लगने लगता है।

इसे भी पढ़ें: जल्दी याद करने के तरीके।

आपके साथ ऐसा न हो इसलिए शुरू में ही लूसेन्ट कि बहुविकल्पीय वाली किताब जे शुरू न करें बल्कि, जैसा हमने बताया की कक्षा 6 की किताब से शुरुआत करें और इतिहास के प्रत्येक चैप्टर को एक कहानी की तरह समझने की कोशिश करें।

★ यूट्यूब करेगा मदद –

कुछ बच्चे केवल यूट्यूब से टॉपिक को समझ लेते हैं और फिर वे भूलने लगते हैं और कुछ बच्चे केवल किताब से पढ़ाई करते हैं। जिनमें से दोनों ही तरीके पूरी तरह सही नहीं है।

अगर आपको ऐसा याद करना है जो आपकोहमेशा के लिए याद हो जाए तो, आपको किताब और यूट्यूब दोनों की मदद लेनी होगी।

सबसे पहले आपको यूट्यूब की मदद से उस टॉपिक को समझ लेना है, जिसे आप पढ़ना चाहते हैं। आपको किसी न किसी वीडियो में वह टॉपिक बहुत अच्छी तरह समझाया गया होगा। अब आपको वह टॉपिक थोड़ा-बहुत या पूरी तरह समझ आ गया होगा।

यूट्यूब से पढ़ने पर किताब से पढ़ने की तुलना में जल्दी याद होता है क्योंकि, उसमें एनीमेशन की मदद से और ज्यादा से ज्यादा चित्रों की मदद से समझाया जाता है।

इसे भी पढ़ें: अंग्रेजी सीखने की शुरुआत कैसे करें?

अब आपको किताब से पढ़ना है और एक बार पढ़ने के बाद में फिर से नोट्स बनाने के लिए तेजी से पढ़ना है। अगर आप ऐसा करेंगे तो किसी भी टॉपिक को एक बार याद करने के बाद कभी नहीं भूलेंगे।

★ खुद के नोट्स बनाएं –

अगर आप चाहते हैं कि आप ज्यादा से ज्यादा समय तक फैक्ट्स को याद रख सकें तो, खुद के नोट्स बनाना बहुत जरूरी हैं। अगर आप दूसरों के नोट्स से याद करेंगे या दोहराएंगे तो, आपको एक बहुत बड़ा नुकसान होगा।

नुकसान यह होगा की वह नोट्स जिस बच्चे के होंगे, वह उन फैक्ट्स को नोट्स में लिखेगा जो उसे महत्वपूर्ण लगेंगे और उसे याद करने में समस्या आएगी जो, हो सकता है कि जो टॉपिक के पॉइंट्स आपको याद न रहते हों वह नोट्स में हो ही न।

अगर फायदे की बात करें तो खुद के नोट्स बनाने का सबसे बड़ा फायदा यह होता है, की जब आप नोट्स बनाने के लिए पढ़ते हैं तो एक बार अतिरिक्त पढ़ना पड़ता है और जब हम किसी चीज को लिखते हैं तो, साथ में वह याद भी हो जाती है।

★ क्विज ऐप का इस्तेमाल करें –

इस समय जो बच्चा अपनी पढ़ाई को ऑनलाइन माध्यम से करने से बचता है वो बच्चा होशियार बच्चों में नॉलेज की रेस में पीछे रह जाता है।

अगर आप अपनी नॉलेज को समय-समय पर जाँचते रहते हैं तो, आपको पता होता है कि आपकी तैयारी कैसी चल रही है और आपको कितनी और मेहनत करने की जरूरत है?

आप जिस भी एग्जाम को ध्यान में रखकर तैयारी कर रहे हैं, आप उस एग्जाम से सम्बंधित मोबाइल ऐप को प्ले स्टोर पर सर्च करें और बहुविकल्पीय प्रश्नों वाले ऐप को चुनें। अब आप रोज उस ऐप में आधा घण्टा क्विज लगाएं।

आप क्विज लगाएंगे तो आपको कुछ नये प्रश्नों के बारे में भी पता चलेगा और आपको अपनी नॉलेज को टेस्ट करने का अच्छा मौका भी मिलेगा।

अगर आप लगातार 1-2 महीने भी इस तरह के अलग-अलग ऐप्स का इस्तेमाल करेंगे तो, आपकी नॉलेज में काफी इजाफा होगा।

★ रोज ज्ञान बढ़ोत्तरी करें –

GK ऐसा बिषय है जिसका कोई अंत नहीं है। आप चाहे जितना भी याद कर लो परीक्षा में 1-2 प्रश्न ऐसे आ ही जाएंगे, जिनके उत्तर आपको नहीं पता होगा और आपने कभी पढ़े भी नहीं होंगे।

इसे भी पढ़ें: पेपर देने जाने से पहले क्या करना चाहिए?

फिर भी आपकी कोशिश हमेशा यही होनी चाहिए कि आप ज्यादा से ज्यादा प्रश्नों के उत्तर याद कर सकें।अगर आप एक दिन में ही 200 प्रश्न-उत्तर याद करेंगे तो, याद रखने में मुश्किल ज्यादा होगी और ऐसा भी हो सकता है कि आप इस प्रश्न का उत्तर किसी दूसरे प्रश्न के उत्तर में कन्फ्यूज हो जाएं।

सबसे अच्छा है कि यदि आपके ऊपर बहुत जल्दी याद करने का कोई प्रेशर नहीं है तो, आप रोज 100 प्रश्न उत्तर याद करें।

ध्यान रहे कि केवल एक बार याद करने से कुछ नहीं होगा। यदि सच में याद रखने हैं तो, प्रत्येक महीने दोहराते रहना जरूरी है।

★ GK याद करने का शानदार तरीका –

हम इतनी जल्दी किताब से पढ़कर याद नहीं कर पाते हैं, जितनी तेजी से अपने दोस्तों से सुनकर याद कर पाते हैं। मेरा मानना है कि यदि GK को याद करने का सबसे सही तरीका है तो, वह ग्रुप स्टडी है।

इसमें आप आपस में बहुत सारे फैक्ट्स और जानकारी आपस में शेयर करते हैं, जिसे हम कभी नहीं भूलते हैं। अगर आपके साथ पढ़ने के लिए होशियार बच्चों का ग्रुप है तो, आप ग्रुप स्टडी जरूर कीजिए और अगर हो सके तो, महीने में एक बार आपस में एक सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता भी रखें।

आपस में ऐसी छोटी-मोटी प्रतियोगिता से आपके ज्ञान में बहुत ज्यादा बढ़ोत्तरी होगी और इसमें आनन्द भी आएगा।

★ टेस्ट देते रहिए –

सामान्य ज्ञान की या किसी भी विषय की तैयारी करते वक्त, समय-समय पर खुद की नॉलेज का आकलन करते रहना बहुत जरूरी है। अगर बात सामान्य ज्ञान की ही करें तो, आपको कम से कम महीने में 2 बार टेस्ट देना चाहिए।

इंटरनेट पर बहुत सारे ऐप्स और वेबसाइट हैं, जहाँ से आप बहुत ही कम पैसों में टेस्टसीरीज खरीद सकते हैं और अपने GK की तैयारी को आगे के स्तर पर लेकर जा सकते हैं।

Q1. GK को तेजी से कैसे याद किया जा सकता है?

GK को तेजी से याद करने का केवल एक तरीका है कि आप इसे रटे नहीं बल्कि, समझकर पढ़ें।

Q2. सामान्य ज्ञान पढ़ने की शुरुआत कैसे करें?

बिषय में रुचि न होने पर शुरुआत में चौकाने वाले फैक्ट्स, महान व्यक्ति के बारे में जानने से शुरुआत कर सकते हैं।

Q3. सामान्य ज्ञान को लंबे समय तक याद कैसे रखें?

बार-बार पढ़ना और समझकर पढ़ना और समझाने के लिए पढ़ने से अधिक समय तक याद रखा जा सकता है।

Q4. GK के नोट्स बनाने क्यों जरूरी हैं?

नोट्स बनाने से किसी भी तिथि या नाम को याद रखने में आसानी होती है।

Q5. GK के खुद के नोट्स बनाए या खरीदे हुए से पढ़ें?

खुद के नोट्स बनाना सबसे अच्छी बात है, इसके बहुत फायदे हैं।

अंतिम शब्द –

अगर आप इन तरीकों को अच्छे से समझकर सामान्य ज्ञान याद करने की कोशिश करेंगे तो, मुझे पूरा विश्वास है कि आपको बिना ज्यादा मुश्किल के ही सामान्य ज्ञान की बातें याद होने लगेंगी।

इसे भी पढ़ें: स्टूडेंट लाइफ में न करें ये गलतियाँ।

अगर आपको इसके बाद भी GK याद करने में कोई परेशानी आती है तो, आप अपनी परेशानी को कमेंट में बता सकते हैं लेकिन यदि आप बिना बार-बार पढ़ें केवल एक ही बार में सब कुछ याद कर लेना चाहते हैं तो, आपको कहीं भी ऐसी जड़ीबूटी नहीं मिलेगी जिसको पीने के बाद आपको केवल एक बार पढ़ने पर ही याद होना शुरू हो जाए।

यदि सामान्य ज्ञान की तैयारी अच्छे से करनी है तो, पढ़ना तो पड़ेगा, हाँ उपरोक्त तरीके GK को लंबे समय तक याद रखने और थोड़ा-सा जल्दी याद करने में आपकी हेल्प कर सकते हैं।

Leave a Comment