चीन की इस ट्रेन के सामने बुलेट ट्रेन भी फेल, 1 हजार किमी./घंटा की रफ़्तार

अभी तक जब भी तेज चलने वाली ट्रेन के बारे में चर्चा होती थी तो, जापान का नाम आता था लेकिन, अब चीन के इस क्षेत्र में विकास को देखकर दुनिया के कई विकसित देश भी हैरान हैं। अब दुनिया की सबसे तेज चलने वाली ट्रेन जापान नहीं बल्कि चीन के शहरों में दौड़ रही है।

जी हाँ, शंघाई मेग्लेव में दौड़ने वाली ट्रेन की रफ़्तार लगभग 460किमी/घंटा के आसपास है लेकिन, अब खबर आ रही है की चीन इस क्षेत्र में खुद को और ज्यादा अपग्रेड कर रहा है और ऐसी ट्रेन को बनाने में जुटा है जिसकी रफ़्तार 1 हजार किलोमीटर प्रति घंटा होने वाली है। इसकी टेस्टिंग चल रही है, जिसमें अभी तक काफी सारे टेस्ट किए जा चुके हैं।

Image पर क्लिक करें और सीक्रेट टिप्स जानें.

हवा की रफ़्तार से चलने वाली इस ट्रेन को CASIC द्वारा बनाया गया है। इस ट्रेन को कम-वैक्यूम वाली ट्यूब के अंदर चलाया जाएगा, जिसमें यह यात्रियों और सामान आदि को तेजी से एक जगह से दूसरी जगह ले जाने में सक्षम होगी। इस ट्रेन को चीन द्वारा बड़े और बिजनेस के लिहाज से डेवलप शहरों में चलाया जाएगा।

परिक्षण के दौरान भी 623 किमी थी स्पीड –

चीन के उत्तर में डांटोस सिटी में इसका परिक्षण जारी है, जसमें 2 किमी लम्बी सुपरकंडक्टिंग मैग्लेव टेस्टिंग लाइन में इसको टेस्ट किया जा रहा है। बिना वैक्यूम के इस मैग्लेव ट्रेन को पिछले टेस्ट में 623 किमी की स्पीड से दौड़ाया गया था। इसको बनाने वाली कम्पनी का कहना है की इस टेस्ट ने सफल होने के साथ-साथ उनके उत्साह को भी बढ़ाया है।

जब यह ट्रेन जब बिना वैक्यूम के ही इतनी स्पीड में दौड़ रही है तो, वैक्यूम के साथ तो आराम से इसकी स्पीड एक हजार किलोमीटर प्रति घंटा पहुँच जाएगी। यह सफल परिक्षण चीन को इस क्षेत्र में दुनिया से काफी आगे निकाल देगा।

चीन में ही है, सबसे तेज रफ़्तार वाली ट्रेन –

अभी भी संघाई मेग्वेल चीन में चलने वाली ट्रेन, दुनिया की सबसे तेज गति से चलने वाली ट्रेन थी लेकिन, अब चीन अपने ही रिकॉर्ड को तोड़कर एक नया रिकॉर्ड बनाने जा रहा है। आपको बता दें की इस ट्रेन में सामान्य ट्रेन की तरह लोहे के पहिए नहीं है बल्कि, ये मैग्नेटिक लेविटेशन के हैं जो की इसकी रफ़्तार के पीछे अहम योगदान देते हैं।

आप चीन के इस विकास को किस तरह देखते हैं और चीन को दुनिया में न.1 बनने के सपने को आप कितनी हद तक सच होने वाला सपना मानते हैं, कमेंट में अपनी राय जरूर बताएँ।

Leave a Comment