टॉपर बनने के लिए कितने घंटे पढ़ना चाहिए (टॉपर बच्चों के सीक्रेट्स)

टॉपर बनने के लिए कितने घंटे पढ़ना चाहिए – दोस्तों आज हम बात करेंगे की टॉपर बनने के लिए आपको कितने घण्टे पढ़ना पड़ता है? आज की इस पोस्ट को यदि आप अच्छे से समझकर पढ़ेंगे तो, आपको आपके क्लास टॉपर बनने से सम्बंधित सभी सवालों के जबाब मिल जाएंगे।

हम इस पोस्ट को, बहुत सारे बच्चों के पढ़ाई के तरीके और पढ़ाई का समय जानने के बाद आपके सामने प्रस्तुत कर रहे हैं, साथ की हमारा खुद का पढ़ाई का अनुभव भी इस पोस्ट में शामिल है तो, मुझे आशा है की आपको इस पोस्ट में दी गई जानकारी पसंद आएगी।

Image पर क्लिक करें और सीक्रेट टिप्स जानें.

आप भी पोस्ट में बताई बातों को फॉलो करके क्लास टॉपर या स्कूल टॉपर आसानी से बन सकते हैं, चलिए आपके एक-एक सवाल का उत्तर जानना शुरू करते हैं –

#1. टॉपर बनने के लिए कितने घण्टे सोना चाहिए?

बहुत सारे बच्चे इस प्रश्न को पूछते हैं की, एक टॉपर विद्यार्थी बनने के लिए उन्हें कितने घंटे सोना चाहिए? आपको बता दें कि वैसे तो यह कहा जाता है की, आपको स्वस्थ रहने के लिए रोज 8 घंटे की नींद लेनी चाहिए।

यह तो आप भी जानते होंगे की, आप 8 घण्टे की नींद लेने के बाद पढ़ाई को ज्यादा समय नहीं दे सकते हैं, इसलिए आपको अपने स्वास्थ्य के साथ थोड़ा-सा तो समझौता करना ही होगा और कम से नींद (5-6 रोज) में काम चलाना होगा।

अगर आप 6 घण्टे सोने में लगाते हैं तो, आपके पास 2 घंटे का अतिरिक्त समय होगा, जिसे आप पढ़ाई में लगा सकते हैं। बहुत सारे पढ़ने वाले होशियार स्टूडेंट अपनी नींद को कम रखते हैं, जो उनके टॉपर बने रहने के लिए अच्छा भी है।

#2. टॉपर बनने के लिए कितने घण्टे पढ़ना चाहिए?

अगर आपको क्लास टॉपर बनना है या स्कूल टॉपर बनना है तो, आपको इसके लिए काफी ज्यादा मेहनत की जरूरत होगी क्योंकि, आजकल सभी बच्चे बहुत ज्यादा मेहनत से पढ़ाई करते हैं, इसलिए क्लास में कोई भी स्थान लाना बहुत ज्यादा कठिन जो गया है।

इसलिए अगर आपको क्लास टॉपर बनना है तो, आपको स्कूल वर्क, ट्यूशन वर्क से अलग 3-5 घण्टे केवल याद करने के लिए रखने होंगे, जिसमें आपको केवल चीजों को याद करेंगे।

आजकल ज्यादातर सभी विद्यार्थी जो परीक्षा में अच्छे अंक से पास होते हैं या क्लास टॉपर होते हैं, वे पढ़ाई को पूरा समय देते हैं इसलिए उनको पीछे करने के लिए आपको ज्यादा से ज्यादा समय देना होगा। आपको हर 24 घण्टे में उनसे ज्यादा पढ़ाई करनी होगी।

#3. टॉपर बनने के लिए कैसे याद करें?

अगर आप चाहते हैं कि आपकी और बच्चों से थोड़ा-सा जल्दी याद हो या अपने नॉर्मल पढ़ाई करने के तरीके से जल्दी याद हो तो, आपको हमारे द्वारा बताए गए जल्दी याद करने के तरीके वाली पोस्ट पढ़नी चाहिए।

आपको उसमें कुछ तरीके जैसे, पेंसिल के साथ पढ़ना, चलते-चलते पढ़ना आदि तरीके जानने को मिलेंगे, जिससे आप कम समय में ज्यादा से ज्यादा याद कर पाएंगे।

#4. क्या टॉपर बनने के लिए ट्यूशन पढ़ना जरूरी है?

जी नहीं, यह जरूरी नहीं है की आप ट्यूशन जरूर ही लगाएं और आजकल तो ऑनलाइन पढ़ाई करना इतना ज्यादा आसान है की, ट्यूशन आने-जाने में लगने वाले समय को बर्बाद करने से अच्छा है की, यूट्यूब से ही पढ़ लिया जाए।

खासकर यदि आप 5-12 कक्षा के छात्र हैं तो, यकीन मानिए आपके लिए यूट्यूब पर ढेर सारा कॉन्टेंट उपलब्ध है, जिसका आपको फायदा उठाना चाहिए।

#5. टॉपर बनने के लिए क्या करें?

कुछ ऐसी बाते हैं जो सभी टॉपर स्टूडेंट्स में कॉमन होती हैं, जिसे सीखकर आप भी होशियार स्टूडेंट की लिस्ट में आ सकते हैं, होशियार स्टूडेंट की अच्छी बातें –

टॉपर बच्चे पूरे साल पढ़ते हैं –

बहुत सारे टॉपर बच्चे बहुत ज्यादा चालाक होते हैं, वे अपने साथ वाले सभी बच्चों को ऐसा दिखाते हैं की, वे तो ज्यादा पढ़ते भी नहीं हैं या बस एग्जाम से कुछ दिन पहले ही पढ़ाई शुरू करते हैं लेकिन, आपको पता होना चाहिए की, जो बच्चा सच में टॉपर होता है वो पूरे साल अपनी पूरी लगन के साथ पढ़ाई में लगा रहता है।

हर होशियार बच्चा उस समय तक सबकुछ याद कर चुका होता है, जब क्लास में हर बर्ष केवल पास होने वाले विद्यार्थी पढ़ना शुरू करते हैं।

होशियार बच्चा अपने आप को नहीं पढ़ता हुआ इसलिए दिखाता है ताकि, उसके साथ के जो होशियार बच्चे हैं वे भी उसे देखकर पढ़ाई छोड़ दें या कम कर दें (जोकि अक्सर होता भी है) जिससे वह बच्चा सबसे ज्यादा अंक लाने में कामयाब हो जाता है।

होशियार बच्चे टाइम टेबल के हिसाब से चलते हैं –

होशियार बच्चों को पता होता है की, यदि शुरू से ही योजना बनाकर पढ़ाई करेंगे तो, सफलता की संभावना बढ़ जाएगी इसलिए वे साल के शुरू में ही एक बड़ा टारगेट बनाते हैं और फिर उसको छोटे-छोटे टारगेट में बदल लेते हैं, फिर उन छोटे-छोटे टारगेट्स को धीरे-धीरे पूरा करते चलते हैं और जब रिजल्ट आता है तो, वे क्लास में 1st, 2nd, 3rd रैंक पर आते हैं और सभी बच्चों को लगता है की, इस लड़के का तो दिमाग तेज है इसलिए ये टॉप किया जबकि, ऐसा नहीं होता है केवल दिमाग तेज होने से काम नहीं चला है बल्कि, उस बच्चे ने पूरे सालभर लगन के साथ, अनुसाशन के साथ पढ़ाई को जारी रखा है।

बच्चे के अंदर आत्मविश्वास जरूरी है –

वे बच्चे जो ज्यादातर क्लास में टॉप करते हैं या कॉलेज, स्कूल में टॉप करते हैं, वे चाहे कितनी भी एक्टिंग करें लेकिन उनको रिजल्ट वाले दिन पहले से ही पता होता है की, उनका कौन-सा स्थान आने वाला है। यह विश्वास उन्हें तभी आता है जब वे उन्होंने उस रैंक के लिए मेहनत की होती है। वही आत्मविश्वास उन्हें आगे मेहनत करने में भी मदद करता है।

#6. topper बनने क्या नहीं करना चाहिए?

बहुत सारे ऐसे काम हैं, जो टॉपर बच्चे नहीं करते हैं और यदि कभी भी वे उन कामों को करते हैं तो, टॉपर बच्चों की लिस्ट से धीरे-धीरे बाहर होना शुरू हो जाते हैं, इसलिए यदि आपको भी टॉपर बनना है तो, आपको इन कामों से बचना चाहिए, आइये जानते हैं यह सभी काम कौन से हैं –

समय बर्बाद करना –

जितने होशियार बच्चे होते हैं, वे समय बर्बाद नहीं करते हैं। उन्हें देखकर आपको ऐसा लग जरूर सकता है की, यह तो आलसी है, समय भी फालतू के काम में ज्यादा बर्बाद करता है लेकिन, वास्तव में जो बच्चा होशियार होता है, उसे समय के महत्व का पता होता है।

वे अपना ज्यादातर समय पढ़ाई को ही देना पसंद करते हैं। अगर आपको टॉपर बनना है, तो ध्यान रहे यदि इस समय आप मौज-मस्ती करेंगे तो, जिस दिन रिजल्ट आएगा, आपको आज की गई मौज-मस्ती बेकार महसूस होगी।

नशे का सेवन करना –

नशा कैसा भी हो आपको शारीरिक और मानसिक दोनों स्तर पर कमजोर बनाता ही है, अगर आप नशे का सेवन करेंगे तो, आपको बहुत सारे नुकसान अलग-अलग स्तर पर तो होंगे ही, साथ ही आपको अभी के लिए सबसे बड़ा नुकसान यह होगा की, आपकी स्मरण शक्ति कम हो जाएगी।

हो सकता है की आपका क्लास टॉपर भी किसी प्रकार का नशा करता हो लेकिन, इसका मतलब यह नहीं है की उसकी स्मरण शक्ति नशे की बजह से कम नहीं हुई है, बल्कि यदि वो नशा न करता होता तो वह और ज्यादा अच्छा कर सकता था। हमेशा ध्यान रखें की कम से कम स्टूडेंट लाइफ में तो किसी भी प्रकार का नशा न करें।

अंतिम शब्द –

बच्चों आपको यह पोस्ट कैसी लगी कमेंट में जरूर बताएं और आप टॉपर बनने के लिए या टॉपर बने रहने के लिए आजकल कितना समय अपनी पढ़ाई को दे रहे हैं, यह भी जरूर बताएं ताकि, ज्यादा से ज्यादा बच्चों को टॉपर के पढ़ने के समय को लेकर, मन में आ रहे सवालों का जबाब मिल सके।

आज की पोस्ट को यहीं पर समाप्त करता हूँ और आपको कुछ बेहतरीन पोस्ट के लिंक दे रहा हूँ जो आपको जरूर पढ़नी चाहिए।

जरूर पढ़ें:

  • पढ़ाई करते वक्त नींद भगाने के तरीके।
  • स्टूडेंट के लिए मेडिटेशन के फायदे।
  • दिन में पढ़ें या रात में ?

Leave a Comment